Astrovigyan.com

Astrology, Vastu Shastra & Hindu Pooja Services & Consultancy
Welcome to 

Horashastra

Click here to edit subtitle

Blog

NAAG PANCHAMI PAR POOJA

Posted on July 31, 2014 at 5:05 PM

नाग पंचमी पर पूजा

नाग पंचमी श्रवण मास में शुक्ल पक्ष की पंचमी को मनाया जयेगा| यह श्रद्धा विश्वास का पर्व है| नगों को धारण करने वाले भगवान भोलेनाथ की पूजा आराधना करना भी इस दिन विशेष रुप से शुभ माना जाता है|

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार पंचमी तिथि के स्वामी नाग देवता है| श्रवण मास में नाग पंचमी होने के कारण इस मास में धरती खोदने का कार्य नहीं किया जाता| भूमि में हाल चलाना, नीव खोदना शुभ नहीं माना जाता है| भूमि में नाग देवता का घर होता है, भूमि खोदने से नगों को कष्ट होने की सम्भावना होती है तथा नाग अपने बिलों से बाहर आकर काट भी सकते है|

नाग देवता कि पूजा उपासना के दिन नगों को दूध पिलाने का कार्य नहीं करना चाहिए| शिव लिंग को दूध से स्नान करा सकते है|दूध पिलाने से नगों की मृत्यु का कारण हो सकती है| ऎसे में नगों को दूध पिलाना, अपने हाथों से अपने देवता की जान लेने के बराबर होता है| इसलिए भूलकर ऐसी गलती करने से बचना चाहिए| नगों की स्वंतत्र पूजा नहीं करनी चाहिये| सिर्फ़ नगों की पूजा करने का मतलब है कि NAGATIVE की पूजा करना है| शिव के गले में नाग शुभ है तथा शिव के साथ ही पूजा करनी चाहिए|

सुबेरे उठ कर शिवाजी का स्मरण करे| उनका अभिषेक करे, उनको जल तथा बेलपत्र चदाये | नगों को हलदी, रौली, चावल और फूल चदाये | इसके बाद चने, खील बदाशे और कच्चा दूध अर्पित करे| घर के मुख्य द्वार पर दोनों और गोबर या गेरु या मिठ्ठी से सर्प की आकृति बनाए तथा मंत्र " ओम कुरु कुल्ले फट" कहते हुए जल को पूरे घर में छिडाक दे|

अगर आप को सपने में साँप आते है या सर्प से भय लगता हो तो नगों कि विशेष पूजा तथा प्रार्थना करनी चाहिए| अगर आप राहु या केतु से परेशान हो रहे है तो आप नाग पंचमी पर उपाय कर सकते है| इस दिन आप एक बड़ी तथा मोठी रस्सी ले आए तथा उसमे सात गाठे लगा ले तथा इसको यह मानिये कि यह सात गाठे वाला एक सर्प है| इसको एक आसन पर रख दे |

आप इसको कच्चा दूध, बताशे, फूल अर्पित करे| गुग्गल कि धूप जलाये | इसके बाद राहु का मंत्र का जाप करे| राहु का मंत्र " ओम राँ रहुवे नम:" का जाप करे| इसके बाद केतु का मंत्र " ओम केँ केतुवे नम:" का पाठ करे | ,मंत्र पढ़ने के बाद रस्सी के सातों गाँठों को खोल दे तथा रस्सी को बहते हुए जल में बहा दे | आप कि राहु या केतु से जितनी भी समस्याये है सब की सब शान्ति हो जायेगी |

2.आप चाँदी का नाग तथा नागिन लेआये तथा एक स्वस्तिक ले आए| नाग और नागिन को एक थाल में तथा स्वस्तिक को एक थाल में रखे तथा पूजा करे| नाग नागिन को कच्चा दूध तथा स्वस्तिक पर बेलपत्र अर्पित करे| "ओम नागेंद्र्हाराय नम:" का जाप करते रहे|नाग नागिन को शिवलिंग पर अर्पित कर दे तथा स्वस्तिक को लाल धागे में डाल कर पहन ले|

3. शिव के मंदिर जाएँ जिसके शिवलिंग के ऊपर सर्प का छत लगी हो | शिवलिंग पर पंचामृत ऐसे अर्पित करे कि वो सर्प पर से होता हुआ शिवलिंग पर आए फिर गंगा जल चढाये | " ओम नमो नील कंठाय " का जाप करते रहे|

इन सभी उपाय से दुष्ट योगों का प्रभाव कम हो जाता है |

आचार्य अजय मोहन लाल

 

 

 

 

Categories: General

Post a Comment

Oops!

Oops, you forgot something.

Oops!

The words you entered did not match the given text. Please try again.

Already a member? Sign In

13 Comments

Reply artecteli
3:24 PM on July 13, 2020 
Cialis Preise evewmelm https://acialisd.com/# - generic cialis 5mg inviNe Levitra 20 Mg Efectos Secundarios gaicaraleree buy cialis uk Rarrarcequic Levitra Uso Diario
Reply snateebra
10:06 AM on March 18, 2021 
https://vslevitrav.com/ - levitra professional
Reply Williamwhozy
12:18 PM on July 1, 2022 
Reply AnthonyMough
5:24 PM on July 11, 2022 
Reply JesseAbild
12:24 AM on July 28, 2022 
????????????
url=https://samokhodnyye-elektricheskiye-telezhki.ru says...
https://samokhodnyye-elektricheskiye-telezhki.ru
Reply ThomasPHepe
10:09 PM on July 30, 2022 
Reply Daniellyday
8:34 AM on August 8, 2022 
Reply DennisNes
11:59 AM on August 9, 2022 
Reply DennisNes
4:19 PM on August 9, 2022 
Reply Richardnex
1:55 PM on August 11, 2022 
Reply AndrewTew
1:30 AM on August 14, 2022 
Reply Brentkix
4:45 PM on August 18, 2022 
????????? ???? ??????????????
http://gidravlicheskiye-podyemnyye-stoly.ru
Reply Brentkix
1:00 AM on August 19, 2022 
????????? ???? ??????????????
http://www.gidravlicheskiye-podyemnyye-stoly.ru/